Home > महाराष्ट्र राज्य > इंशा अल्लाह हम पढेंगे और सिस्टम का हिस्सा बनेगे...

इंशा अल्लाह हम पढेंगे और सिस्टम का हिस्सा बनेगे...

इंशा अल्लाह हम पढेंगे और सिस्टम का हिस्सा बनेगे...
X

बहोत प्लान करके सियासी लोगो ने हमारा नुकसान किया है अब एक भैस चरानेवाला भी ये मान चुका है कि इस देश मे जिंदा रहेना है तो बच्चो को पढाना पडेगा दुनिया का कोई सिस्टम परफेक्ट नही होता है माईक पे कितना भी कोसो कितना भी गालीया दो निजाम नही बदलेगा निजाम बदलना चाहते हो तो सिस्टम का हिस्सा बनो थाने मे अगर तुम्हारे नाम का एक सिपाई आता है तो थाने का निजाम बदल जाता है जिस दिन तुम किसी जिले मे कलेक्टर बनके बैठोगे, एसपी बनके बैठोगे उस दिन जिले का हाल क्या होगा.? अगर इस मुल्क को सुधारना चाहते हो अपना हक लेना चाहते हो तो ब्युरोक्रेसी पे कब्जा करो इसके अलावा कोई चारा नही है अपने बच्चो को इंजिनिअर, डाॅक्टर, बहोत बडा बिझनेसमैन बनाओ गे तो अरब पती बन जाओगे तुम्हारा खुद फायदा होगा लेकिन अगर नस्लो का फायदा करना चाहते हो तो सिर्फ ब्युरोक्रेसी पर कब्जा करो पावर अपने हाथ मे लो मै कुछ लोगो से कहेना चाहुगा की IAS, IPS कोचिंग के लिए एक फ्रि इन्स्टिट्युट डालिए कसम खाईये की एक वक्त खाएगे लेकीन IAS IPS बनके दिखाएगे मै मानता हु की हमारी नई नस्ले थोडी सी बदमाश है हिरोगीरी मे ज्यादा रहेती है शाहरूख, सलमान, आमीर के फॅन ज्यादा है इस बात पर हमारे बडे बुजुर्ग चीडते भी है मगर फिर भी जितना चाहो मस्ती करो जितना चाहो घुमो फिरो लेकिन दो बाते जिंदगी मे अहेद कर लो कुछ भी करो लेकिन अजान हो तो मस्जिद का रूख कर लो नमाज पढो उसके बाद जो करना है करो क्योकी नमाज हर बुराई से रोकती है और दूसरी बात अपने दिल के अंदर बैठा लो की नही बहोत हो चुका बहोत झेल चुके हमारे बडे बुजूर्ग बहोत झेल चुके हमारे पुरखे अब इंशा अल्लाह हम पढेंगे हम सिस्टम का हिस्सा बनेगे...

जाकीर हुसैन 9421302699

Updated : 24 Jun 2020 7:52 PM GMT
Next Story
Share it
Top