Home > About Us... > इस्लाम: आधुनिक युग का निर्माता- इब्न अल-हिशाम (अल - हजन)

इस्लाम: आधुनिक युग का निर्माता- इब्न अल-हिशाम (अल - हजन)

इस्लाम: आधुनिक युग का निर्माता- इब्न अल-हिशाम (अल - हजन)
X

इस्लाम: आधुनिक युग का निर्माता-

इब्न अल-हिशाम (अल - हजन)


📍 अबू अली इब्न अल-हिशाम (965-1040 ई०) जिन्हें पश्चिम में अल-हज़न के नाम से जाना जाता है, वे इतिहास में पहले व्यक्ति हैं, जिन्होंने भौतिक चीज़ों में जड़त्व (Inertia) का विचार दिया। उनकी यह खोज अनूदित होकर यूरोप पहुँची। वहाँ के विद्वानों ने उसे पढ़ा तथा उस पर और अधिक खोज का काम किया। यहाँ तक कि वह चीज़ अस्तित्व में आई, जिसे भौतिक चीज़ों की गति के बारे में न्यूटन के पहले नियम के नाम से जाना जाता है।


🔆 यह दरअसल इब्न अल-हिशाम हैं, जिन्होंने सबसे पहले यह खोज की कि रोशनी एक जगह से दूसरी जगह तक जाने के लिए ऐसा रास्ता चुनती है , जिसमें कम से कम समय लगे। यही वह खोज है, जो आधुनिक समय में 'फ़रमा के सिद्धांत' (Fermat's Principle) के नाम से सारी दुनिया में प्रसिद्ध है।


📑 इब्न अल-हिशाम या अल-हज़न एक अग्रणी वैज्ञानिक चिंतक-विचारक थे, जिन्होंने दृष्टि विज्ञान और प्रकाश विज्ञान (Optics) की समझ के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया। विज्ञान के सिद्धांत को सत्यापित करने के लिए प्रयोग कार्य का उपयोग ख़ास तौर से जाँच की उनकी पद्धति, आधुनिक वैज्ञानिक पद्धति को अस्तित्व में लाने का कारण बनी। प्रकाश विज्ञान पर उनकी पुस्तक ‛किताब अल-मनाज़िर' (Book of Optics) लैटिन भाषा में (De Aspectibus) अनूदित होकर यूरोप पहुँची। इस पुस्तक में मौजूद उनके विचारों ने यूरोप के विद्वानों को बहुत प्रभावित किया।


✨आधुनिक समय के बहुत सारे लोग उन्हें प्रकाश विज्ञान के इतिहास का अत्यधिक महत्वपूर्ण व्यक्ति और ‛ आधुनिक प्रकाश विज्ञान का पिता ' मानते हैं। उन्होंने प्रकाश विज्ञान से संबंधित विभिन्न विषयों पर कई महत्वपूर्ण पुस्तकें लिखीं। लैटिन भाषा में अनूदित की गई उनकी पुस्तकों ने मध्यकालीन और पुनर्जागरण यूरोप के बहुत सारे चिंतकों और विचारकों, जैसे:- रोजर बेकन (Roger Bacon), रेने डेसकार्टेस (Rene Descartes) और क्रिस्चियन हुयोंस (Christian Huygens) आदि को प्रभावित किया । पश्चिम ने उनके सम्मान में चाँद के क्रेटर और क्षुद्रग्रह 59,239 (Asteroid 59239)को " अल-हज़न " नाम दिया है।


Source golden Muslim ege-

1001 invention

🔸🔸🔸🔸🔸🔸🔸

संकलन अताउल्ला पठाण सर

टूनकी बुलढाणा महाराष्ट्र

Updated : 14 March 2021 3:59 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top